Total records:500

Rape with a Dalit girl in village Ludhavai

    It is alleged that the accused family has a rivalry over some old matter with the victim family. The accused abducted the Dalit girl and took her to the many places with the help of his cousin namely Pushpendra s/o Chandan Jat. He he established sexual relation with the girl without her consent. He allgedly kept her at different places. The girl was recovered after 4-5 days. 

  • Posted by: Centre for Dalit Rights
  • Fact finding date: 13-04-2017
  • Date of Case Upload: 03-06-2017

Physical assault with Dalit woman over water dispute in Dudu

    on 8-9-2016, around 7am, when the husband of the victim was oout of the village and victim Panchi Devi went to the common water tap to collect the water. The main accused Prem Devi Gurjar, first prevented her to collect the water. Panchi Devi returened home without taking water. The son of the accused was also with her. Both of them were calling her with bad and when she reached her home, all the accused came to her house and dumped the dung at her and started beating her with axe, sticks and stones. In the incident, she got badly injured. the person from the neighbouring house saved her and informed her husband about the matter. He husband came back after two hours and took her to the hospital.  

  • Posted by: Centre for Dalit Rights
  • Fact finding date: 12-09-2016
  • Date of Case Upload: 03-06-2017

A Dalit boy was beaten not going for Driving vehicle of Dominant Caste


    उ० म० वि० , भुसहा , प्रखंड+थाना- संग्रामपुर, पूर्वी चम्पारण में कुल 6 शिक्षक कार्यरत है जिसमे 5 शिक्षक और 1 शिक्षिका है जो अनुसूचित जाति की है I विद्यालय में एक सामुदायिक शिक्षक(तालीमी मरकज़) मेराज आलम भी है जिनकी पुत्री भी उसी विद्यालय में पढती है I यह घटना बच्चो के खेल-खेल से मारपीट तक जा पहुँचती है I घटना के दिन विद्यालय में में कार्यरत तालीमी मरकज़ मेराज आलम की बेटी तब्बसुम खातून के द्वरा बरामदे खेल रही 5 बच्ची 1. रेनू कुमारी  2. काज़ल कुमारी 3.आशा कुमारी 4. सबिता कुमारी 5. संगीता कुमारी    को ईंट चलाकर मारी जो जाकर आशा कुमारी को लग गयी I जब बच्चो ने ईंट मारने का कारण पूछा तो इस बात को लेकर दोनों तरफ से मारपीट होने लगी I उसके बाद शिक्षको ने उनका झगड़ा छुड़ा दिया I इन पांचो बच्चो के घर जाने का रास्ता मेराज आलम के घर से होकर जाता है I अत: स्कूल की छुट्टी के बाद जब ये सभी बच्चे अपने घर लौट रहे थे तो तब्बसुम खातून के माता-पिता ने उन पांचो लोगों को पकड़ लिया I अभियुक्तों ने इन पांचो बच्चो को इतनी बुरी तरह पिटा की वे सब वन्ही बेहोश हो गए बाद में उनके परिजनों को कुछ लोगों ने खबर कर दिया तथा उनलोगों ने तत्काल ही बाछियो अस्पताल में भर्ती करवा दिया I इस मामले में अभी तक अभियुक्त की गिरफ्तारी नहीं हुयी है I

  • Posted by: NDMJ-Bihar
  • Fact finding date: 29-11-2016
  • Date of Case Upload: 22-05-2017

Physical and sexual assault with Dalit woman in village sankria under District Ajmer

    Case details is not available
  • Posted by: Centre for Dalit Rights
  • Fact finding date: 03-01-2017
  • Date of Case Upload: 22-05-2017

A Dalit Property Dealer was murdered hitting by bullet

    पीड़ित परिवार के सदस्य की हत्या एक सोची समझी साजिश के तहत की गयी जिसमे अभियुक्तों ने व्यवसाय में होने वाली अनबन का बदला लेने के लिये दलित युवक को मौत के घाट उतार दिया I स्व० मिथलेश राम जिनकी हत्या हुयी वो अपनी पत्नी निर्मला देवी, 30 वर्ष  और तीन बच्चों नूतन कुमारी,14 वर्ष, अभय कुमार, 10 वर्ष और निर्भय कुमार ,  8 वर्ष के साथ रहता था I इनके दैनिक रोजगार में इनकी खेती-बाड़ी और इसके अलावा ये लोगों को जमीन खरीद-बिक्री करने के मामले में मदद किया करते थे जिसमे इन्हें छोटी-मोटी रकम कमीशन के तौर पर मिल जाती थी I लेकिन इनके आर्थिक व्यवस्था का मुख्य माध्यम कृषि ही था I अभियुक्त और मिथलेश राम के बीच ज़मीन के मामले को लेकर ही कुछ विवाद चल रहा था और इसी पर बात-चित करने के लिये विनोद ठाकुर ने उन्हें फोन करके करीब 11 बजे दिन बुलाया था I अभियुक्तों ने दिनभर मिथलेश राम को अपने साथ रखा तथा शाम को उसे गोली मारकर उसे मोटर सायकिल के साथ सड़क पर लिटा दिया I इस दौरान अभियुक्तों ने चालाकी से पीठ पर लगी हुयी गोली के जगह रुई और पौलिथिन भरकर उसे अच्छी तरह पट्टी से बांध दिया ताकि ये पूरी घटना एक एक्सीडेंट के रूप में देखी जाये I बाद में मृतक के मोबाईल पर बार-बार फोन आने के पर उसके घर वालों को सुचना दे दी की मिथलेश राम का मोटर सायकिल से एक्सीडेंट हो गया I उसके बाद शव को पुलिस के द्वरा पोस्टमाटम के लिये बेतिया सदर अस्पताल भेज दिया गया था जिसमे डॉक्टर ने मृतक को गोली मारने की बात को उजागर किया I     

  • Posted by: NDMJ-Bihar
  • Fact finding date: 14-12-2016
  • Date of Case Upload: 22-05-2017

Total Visitors : 768380
© All rights Reserved - Atrocity Tracking and Monitoring System (ATM)